மாஸ்டர் ஃபுல் மூவி தமிழில்

नौकर के साथ सेक्सी

नौकर के साथ सेक्सी, मैं समझ जाता यह कोई भी है मगर प्रिंसिपल नहीं है । प्रिंसिपल होता तो ऐसी कोई हरकत करता ही नहीं जिससे उसका राज उजागर हो जाये । . पीतम के दाने से रगड़ने लगा और पीछे से धक्के भी मार ता जा रहा था प्रीतम का शरीर काँपता जा रहा था थप थप चुदाई होये जा रही थी तभी प्रीतम की

उसके आकर्षक नग्न नितम्ब उत्कृष्टता से सिहर रहे थे, और उसकी तप्त जकड़ती योनि बड़े उत्साह से राज के घोंपते हुए काले लिंग की लम्बाई पर चढ़-चढ़ कर नीचे फटकती जाती थी। उस कामुक किशोरी को तो स्मरण भी नहीं था कि पहले कब उसे ऐसे विलक्षण उन्माद का अनुभव हुआ जिसका अनुभव वो उस समय कर रही थी। सोनल के जिश्म की बेकारारी बढ़ने लगी और दिल कर रहा था कि जल्दी से चाचा का लण्ड उसके अंदर आ जाए। और वो फिर से चुदबाए। उसके जिश्म पे उसका इख्तियार नहीं रहा। जेहन में सिर्फ़ एक ही बात थी और वो थी चाचा का मोटा और बड़ा लण्ड।

देखा नहीं, तुम्हारी टीना आँटी किस स्पीड से राज को इधर से घसीट कर ले गयी थीं, मुझे पक्का मालूम है कि उसने अपने लिये तुम्हारे भाई के लन्ड को रिजर्व कर लिया होगा, उन्होंने फंकार कर कहा, और अपनी उंगली को हौले हौले उसकी जकड़ती योनि के भीतर मसलने लगे, नौकर के साथ सेक्सी आकर्षक मुसकान के साथ कहा विभा ने ---- मैं चाहती तो उसे रोक सकती थी । गिरफ्तार कर सकती थी लेकिन नहीं किया ! क्या तुम इसे मेरा उसे सहयोग देना नहीं कहोगे ?

எக்ஸ் எக்ஸ் எக்ஸ்

  1. रामु-- नही बहु ये लड़की कुछ अलग मिजाज की है, जब ये मुझसे इतनी नफरत करती है तो मुझे अपने पास भी नही आने देगी। कुछ और सोचना होगा।
  2. एरिक बोला --... इस सम्बन्ध में तो हम भी यही करेंगे । सत्या के सम्बन्ध में ऐसा विचार नहीं किया जा सकता । विद्यालय में एक वही तो थी जिसके सिद्धान्तों के कारण विद्यालय विद्यालय था । सेक्सी देहाती सेक्सी देहाती
  3. उस समय आरती सिर्फ़ ब्लाऊज़ और पेटीकोट में थीं और कहने के बाद पेट के बल हो कर उल्टी लेट गई। आरति ने अपने ब्लाऊज़ का सिर्फ़ एक हुक छोड़ कर सारे हुक खोले हुए थे और अपना पेटीकोट भी कुछ मेरा गला भी भर आया मैं बस इतना ही कह पाया मिथ्लेश नही जी पाउन्गा तेरे बिन जितनी भी साँसे है बस तेरे लिए ही है पहली और आख़िरी पसंद बस तू ही है कुछ भी कर पर बस तुम मेरी ही दुल्हन बन ना मैं बोला अगली छुट्टी आते ही चाहे कुछ भी हो मैं तेरे घर आउन्गा तेरा हाथ माँगने के लिए
  4. नौकर के साथ सेक्सी...डार्लिंग आज से मैं तुम्हारे जिस्म की भूख को शाँत करूँगा और जब तुम कहोगी उसी समय अपना लंड तुम्हारी सेवा में हाज़िर कर दूँगा! आज से तुम्हारे दुख के दिन बीत गये। आज से तुम सिर्फ़ इस असली लंड का मज़ा लो और इतना कह कर आरती को दबा दबा कर उसके रसीले होंठ चूसने लगा। फिर जया काकी ने 20 सेकण्ड तक कमल से कुछ नहीं कहा और फिर कमल धीरे धीरे अपना लंड उसकी गांड पर रगड़ने लगा और उसके बूब्स को मसलने लगा.
  5. ओहहह! हाँ, जय! मुझे कस के चोद, बेटा! माँ की चूत को चोद चोद कर मादरचोद बन जा बेटा !, टीना जी बिलबिला रही थीं। उन्होंने अपनी लम्बी गोरी माँसल टांगे उसकी जाँघों पर लिपटा रखी थीं और पश्विक निष्ठुरता से सैक्स - लीला में रत अपने पुत्र के ढकेलते नितम्बों पर नाखून गाड़े हुए थीं। कविता तू ठीक है ना? दर्द तो नहीं हो रहा? देख मैं कितने प्यार से और धीरे धीरे तेरी गाण्ड मार रही हूँ ! मोनिका कहने लगी।

लड़कियों की नंबर चाहिए

कमल मुंह हाथ धोकर घर मे आया और टीवी देखने लगा. थोड़ी देर बाद खाना लग गया.कमल और आरती खाना खाने लगे. खाना खाने के बाद आरती उसके पास आई और बोली तैयार रहना तुझे कॉल करूंगी थोड़ी देर में.

उधर जैसे जैसे सोनिया के गरम लबों की रफ़्तार उसके लन्ड पर ऊपर-नीचे और तेज होती जा रही थी, राज को अपने टट्टों में वीर्य उबलता हुआ महसूस हो रहा था। ज - जब आप सब कुछ जानती ही है तो .... मेरा जानना अलग है । तुम्हारा बताना अलग ! मैं ये देखना चाहती हूं ---- तुम अब भी कुछ छुपाने की फिराक में हो या सब कुछ सच - सच बताते हो ? बोलो --- सत्या की हत्या क्यों और किस तरह की तुमने ? सारी बातें विस्तार से बताओ । कुछ भी छुपाया तो मुझसे बुरा कोई न होगा । '

नौकर के साथ सेक्सी,रवि बिस्तर पर जकर पसर जाता है और फिर से सो जाता है। आरती वही बैठी अभी जो कुछ हुआ उसे सोचती रहती है। रामु तो नॉकर था जो किया सो किया लेकिन रवि रवि ने क्यो उसके साथ ऐसा किया,

अँह ! जय! चोद हरामी! अँह, खींच कर चोद! अँह, ये मम्मी की चूत नहीं, ऊँह ऊँह ! जो दो-दो इन्च ठेलेगा! ऊँह ऊँह टाइट चूत है! ऊँह 5-6 इन्च तो ठेल !, सोनिया आवश्यक्ता से कुछ अधिक ऊंचे स्वर में चीखी।

फिलहाल वही जाने । तब तक काफी लड़कियां कमरे में घुस आई थी । मैंने लड़कों को बाहर निकलने की सलाह दी ताकि हिमानी कपड़े पहन सके । गैलरी में मेरे साथ - साथ चल रहे राजेश ने कहा ---- गनीमत है सर । मैं तो डर ही गया था ! लगा था ---- की हत्यारे ने एक और हत्या तो नहीं कर दी ।साडीवाली भाभी का सेक्स व्हिडीओ

देखते क्या हो राज , सोनिया ने फ़रमाइश की, पहले जैसे एक और बार मुझे चोदो! लौन्डा अपने कूल्हे फिर से हिलाने लगा। अप्ना लम्बा लन्ड जवान लौन्डीया की तन्ग जकड़ती चूत में अन्दर-बाहर टेलने लगा। प्लीज बेद ! मुझे अपना काम करने दो । ये शब्द विभा ने ऐसे अंदाज में कहे कि मैं तो मैं , कोई कुछ नहीं बोला।

मैं – काकी, बहन चोद तू चुप हो जा, रंडी, मेरी ताई मेरी रानी है, इस घर की रानी है, तू नौकरानी है समझी रांड?

जीप सौ की स्पीड पर दौड़ी चली जा रही थी । -'बात समझ में नहीं हम रूड़की रोड पर शहर से बाहर निकल चुके थे । एकाएक सब - इंस्पैक्टर ने इंस्पैक्टर साहब से पूछा समझ नही आ रही सर । हम लोग जा कहां रहे है ?,नौकर के साथ सेक्सी रमन- नहीं माँ, मैं निप्पल चूस रहा था, बहुत मजा आया, रात भर आपके निप्पल चूसे, इसमें से हल्का सा दूध भी आया.

News