काजल राघवानी की चुदाई

सेक्सी सेक्स ब्लू

सेक्सी सेक्स ब्लू, पर पापा ने अपनी कमर नहीं रोकी बल्कि वो मेरी चुदाई दुगनी तेजी से करने लगे जैसे ही हम ट्रैफिक जैम में जैसे। उसका लिंग गर्म और गिला था और उसके पानी का स्वाद कुछ कटा था। उसके बाद उसने मेरी कच्छी उतारी और मेरी चुत को रगड़ रगड़ कर उसको भोसड़ा बनाने लगा।

उसके बाद मालिक अपनी काम वाली को पीछे से चाटने लगा। मुझे उसके होठो की चूसने और जुबान की चाटने की सेक्सी चिपचिपी आवाजे आ रही थी। फिर वु उल्टा हो जाएगा और जल्द ही वू उल्टा हो जाएगा। टैब उसने ने मेरी जीन्स का बटन खोला और जींस और अंडरवियर को थोड़ा नीचे खींचा, मेरा लंड लिया और ले लिया।

उस बंजारन का बदन गर्म हो रहा था और मेरा लंड भी लार टपका रहा था। दिखने में वो गरीब थी पर सके कपडको दे अंडे काफी सेक्सी माल अपनी था। मैंने जोर जोर से उसकी गांड को नोचना चेतना शुरू कर दिया और वो अपना ब्लाउज उतरने लगी। उसके बाद मैं खड़ा होकर उसको अपने पास खींचा और उसे होठो पर चूमने लगा। सेक्सी सेक्स ब्लू तब माई यूके एक बोब को मुह मैं लेके चोसे लग आउर दोसरे को ज़ोर-ज़ोर से डबाने लग गया। वू मी मो उसके स्तनों को निचोड़ रहा था और ज़ोन जोर से कराह रहा था।

मुळशी पॅटर्न पिक्चर मराठी

  1. उस भिखारन ने सिर्फ एक ब्लाउज और पेटीकोट पहना था और मुझे उसके स्तन और सेक्सी पतली कमर दिख रही थी इसलिए मैं कामुक हो कर उसके झोपड़े में चला गया।
  2. तो दोस्तों ये थी मेरी बरसात में चुदाई की कहानी अगर आपको मेरी हॉट चुत की कहानी पसंद आई तो मुझे मेल भेजे और बताए की मेरी कहानी किसी है। ह अक्षरावरून मुलींची नावे
  3. मेरी छाती भी पसीने से गीली हो गई और गीली कमीज से निप्पल देखने लगे। दोस्तों मेरी कहानी का ये पहला भाग है दूसरा भाग पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर जाए और मुझे मेल करने बताए की मेरीअश्लील कहानीआपको किसी लगी। मैं उस लड़के की गांड पकड़ कर मरने लगा और उसे मजा आने लगा। उसे देख मेरा मुँह खुला रह गया की भला किसी लड़के को लंड लेने में कैसे मजा आ रहा है ? दोस्तों मेरा नाम अविनीश है और मैं लखनऊ, उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ। मृ उम्र 27 साल है और मेरी येगे कहानीइस वेबसाइट पर पहली बार प्रकाशित हुई है।
  4. सेक्सी सेक्स ब्लू...मेरे सपने वाला पडोसी अपनी सगी भाभी को चोदने में लगा था। पहले तो मेरी आंखे खुली रह गई पर उन्हें चुदाई करता देखा मेरी कच्ची पर चुत की लार गिरने लगी। चुत अंदर से गर्म, नरम, और लसलसी थी। मैं भाभी को उंगलियों से चोद कर और गीला कर रहा था ताकि लंड डालते ही मुझे ज्यादा से ज्यादा मजा आए।
  5. दोस्तों मैं रिंकी अगर अपने मेरी सेक्स कहानीपापा की गन्दी सचाईनहीं पढ़ी तो नीचे क्लिक कर के पहला भाग पढ़ सकते है। उम्मीद है मेरी येअन्तर्वासना चुदाई कहानीपढ़कर इस बार आपका पानी जरूर निकलेगा। भाभी का सेक्सी बदन देखकर मैं हिल गया। सेक्सी चर्बी वाला भाभी का शरीर और मोटी गोल गांड मैं कैसे चोदुँगा ये सोचने मैं लग गया।

माथाडी कामगार संघटना

दोस्तों ये थी मेरी कहानीकमीने दोस्त की माँ की चुदाईअगर आपको जरा भी पसंद आयी तो मुझे मेल में जरूर बताना।

ये बोल कर उन्होंने मेरा पजामा नीचे उतार कर खोल दिया। मैं अपने हाथ से अपने लंड को छुपाने लगा और बोला ये आप क्या कर रही हो ?? अब बाप की बात को मैं मना तो कर नहीं कसता था मैं वापस घर चला गया। मैंने घर का दरवाजा कोला और अंदर चला गया। मैंने जोर जोर से चिलाय सुमन !! सुमन पर उसका कुछ अत पता नहीं चला।

सेक्सी सेक्स ब्लू,जेसी दबाया जेसी माई , वेस वेस वू की छवियों गर्म हो रही थी और वू चुंबन और पूरी भावना। चुंबन की बात हो रही है, हम थोड़ी देर तक एक दूसरे को गले लगाया।

वो धीरे धीरे अपनी कमरे हिला हिला कर मेरी जांघ की खाल पर अपने गर्म लंड को रगड़ रहा था और मैं उसके हाथ से मुठ का मजा ले रहा था।

पर दोस्तों मुंबई की लड़किया इतनी सेक्सी थी की मैं रुक नहीं पाया मेरे लिंग से पानी टपकने लगा और आंटी को मेरे कामुक होने का पता था। साथ बैठी आंटी मेरे बारे में गन्दा सोचने लगी जिस कारण उनकी चुत भी गीली हो गई।झाडांचे महत्त्व निबंध मराठी

उसके बाद मैंने थोड़ा थूक अपने मुँह में भरा और उसे आंटी के मुँह के अंदर थूक कर होठो को बार बार चूमने लगा। आंटी के मुँह से सारा थूक बहकर उनके सेक्सी स्तनों की दरार के अंदर चला गया। मुझे चोदने के बाद उन्हें होश आया की उन्होंने क्या किया है। मेरे कामुक शरीर को देख वो अपने लंड से सोचने लगे थे इसलिए उन्होंने मुझे चोद डाला और मेरी चुत में माल छोड़ दिया।

इसी बीच मुझे समज नहीं आया की मैं क्या करू। ऊपर से मेरी बीवी भी मुझे बुरा भला बोलने लगी। मेरी बीवी का कहना था की मैं डरपोक हूँ जो अपने पडोसी से कुछ नहीं बोल पाया। देखते ही देखते मेरी तबियत भी खराब होने लगी।लॉकडाउनमें पेसो की कमी और बेटी की आशिकी से मेरा BP भी बढ़ने लगा।

अब सुबह सुबह तो हर लड़के का लंड खड़ा हो जाया है एक रात मेरे कमरे का दरवाजा खुला रह गया और मेरा लंड सुबह खड़ा हो गया। उस वक्त मैं सो रहा था और दरवाजा हूला था।,सेक्सी सेक्स ब्लू कुछ देर मम्मी को झुका कर चोदने के बाद मैंने उन्हें अपनी तरफ मुँह कर के खड़ा किया और उनकी पीठ को दिवार का सहारा देकर चोदने लगा।

News